sublayer
sublayer
sublayer

7-8 सितंबर 2017 को रांची (झारखंड) में हिंदी की पहली आदिवासी महिला कथाकार एलिस एक्का की जन्मशताब्दी पर ‘अखिल भारतीय आदिवासी लेखिका सम्मिलन’आयोजित हो रहा है. आप सब आमंत्रित हैं.

अखिल भारतीय आदिवासी लेखिका सम्मिलन

एलिस एक्का की जन्मशताब्दी (1917-2017) पर आयोजित

sublayer
sublayer
sublayer
sublayer
sublayer
sublayer
sublayer
sublayer
sublayer
sublayer
sublayer

...राज्य सत्ता के दमन और कॉरपोरेट लूट के खिलाफ.घोषणा-पत्र देखें >

sublayer
हम न झुके हैं, न ही कभी झुकेंगे
आदिवासी/देशज समुदाय दो हजार सालों से युद्ध में हैं.

जोहार! देश के आदिवासी/देशज समुदाय कभी नहीं हारे, चाहे मिथक हो, इतिहास हो या कि वर्तमान. हमने घुटने कभी नहीं टेके. चाहे मिथक हो, इतिहास हो या कि वर्तमान. हुलगुलान जिंदाबाद!!

sublayer
sublayer
sublayer
sublayer
sublayer
sublayer
sublayer
sublayer
पुस्तकें ऑनलाइन उपलब्ध हैं
देशज/आदिवासी साहित्य खरीद कर सपोर्ट करें